James Cameron हॉलीवुड के सफल निर्देशकों में आते हैं. 1997 में बनी टाइटैनिक फिल्म ने Oscar award की लाइन लगा दी. आज जो भी हम टाइटैनिक के बारे में जानते हैं वो फिल्म की देन है.

अपने समय के सबसे बेहतरीन और ताकतवर जहाज टाइटैनिक का निर्माण Belfast (Ireland) के Harland और Wolff शिपयार्ड में किया गया था. इसकी outer shielding 30 feet steel से की गई. इसे बनाने वालों ने इसे ‘The unsinkable Palace’ नाम दिया. मतलब कि किसी भी स्थिति में ये डूबेगा नही. जाहिर है, इसका insurance भी तगडा हुआ. रकम भरने वाली insurance company भी दिवालिया हो गई. लेकिन ये सब बातें प्याज की बाहरी परतों की तरह हैं. अंदर असली कारण हैं.

सन् 1898 मे Morgan Robertson नामक एक लेखक ने ‘Wreck Of The Titan’ नामक पुस्तक लिखी, जिसकी कथावस्तु और टाइटैनिक के घटनाक्रम में काफी समानता थी 

81Gj-5BWWtL

पुस्तक के Main Points कुछ इस प्रकार से है– ‘एक वैभवी जहाज जिसे Unsinkable (कभी ना डूबनेवाला) माना जाता है वह ऊत्तरी अटलांटिक समुद्र मे अप्रैल के महीने मे तेज गति से यात्रा कर रहा है, वह जहाज अचानक एक हिमशिला से टकराता है और उसमें सवार लगभग सभी यात्रियो की मृत्यु हो जाती है। यात्रियो की मौत का मुख्य कारण जहाज पर Lifeboats की कमी के कारण हुई थी। किताब के काल्पनिक जहाज Titan की तरह वास्तविक Titanic Ship भी अप्रैल के महिने मे ऊत्तरी अटलांटिक समुद्र मे यात्रा कर रहा था। दोनो ही जहाज (वास्तविक + काल्पनिक) मे यात्रियों के लिए पर्याप्त Lifeboats नही थी। दोनों के आकार मे भी आश्चर्यजनक रुप से समानता थी :

1. पुस्तक मे वर्णित जहाज Titan का आकार 800 फीट जबकि वास्तविक RMS Titanic जहाज का आकार 882 फुट था।

2. पुस्तक मे वर्णित जहाज की गति 25 Knots थी जबकि वास्तविक टाईटेनिक जहाज की गति 21 Knots थी. (speed matters).

3. किताब का Titan जहाज New Foundland के पास डूब जाता है। और वास्तविक टाईटेनिक जहाज भी न्यू फाउन्ड लेन्ड के पास ही डूबा था.

इस पुस्तक के प्रकाशित होने के ठीक 14 वर्षो बाद यानि सन् 1912 मे इस पुस्तक की काल्पनिक कथा वास्तविकता का रुप लेनेवाली थी। लेकिन इस बार इस घटना का भारी राजनैतिक + आर्थिक प्रभाव पड़ने वाला था। क्योकि Titanic के ऊस जहाज पर तत्कालीन विश्व के कुछ अत्यंत पैसेवाले व्यक्ति यात्रा कर रहे थे।

कहा जाता है J.P. Morgan ने अपने प्रतिद्विन्दियों को खत्म करने के लिए इस किताब से ही प्रेरणा ली थी

 

टाइटैनिक का डूबना = एक तीर से कई आम तोड़ने जैसा था.

1- Federal Reserve Bank बनने के काम में अडंगा लगा रहे देश के सबसे अमीरों में से तीन लोग ठिकाने लगे.

2- Fed बनाना जरूरी था प्रथम विश्व युद्ध की funding के लिए.

3. Insurance money भारी मात्रा में JP Morgan को मिली. ये biggest marine insurance fraud भी था.

सवाल – – क्या J.P. Morgan ने ही RMS Titanic को बनवाने के लिए फंडिग की थी ?

क्या J.P.Morgan ने फेडरल रिजर्व की स्थापना के रास्त मे अवरोध बन रहे उन प्रमुख अमीरों को रास्ते से हटाने के लिए Titanic जहाज को डूबोया था ?

टाइटैनिक जहाज डूबा नहीं डुबाया गया था, बैंकर माफियाओं ने रची थी साजिश
Source

वो तीन शक्तिशाली लोग थे :

1. John Jacob Astor IV
2. Benjamin Guggenheim
3. Isidor Straus

 

ऊस समय John Jacob Astor IV विश्व के सबसे अमीर व्यक्ति थे Rothschild से भी ज्यादा । और महान वैज्ञानिक Nicola Tesla के परम मित्र भी थे. John फेडरल रिजर्व की स्थापना के प्रबल विरोधी थे और एक बिल्डर, निवेशक, संशोधक थे । ऊन्ही इसी कार्य के जरिये अथाह संपत्ति प्राप्त की थी . Benjamin Guggheim और Isa Strauss की भी डूबने से मौत हो गई थी.

Pointwise समझते हैं 

1. J P Morgan ने टाईटेनिक जहाज को बनाने के लिए फंडिग की थी।

2. J.P. Morgan भी टाईटेनिक जहाज मे यात्रा करनेवालो की सूचि मे शामिल थे परन्तु ऊन्होने अंतिम समय पर अपना टिकट कैन्सल करवाया था।

3. Titanic जहाज पर आपातकालीन परिस्थिति मे बचाव कार्य के लिए सहायता हेतु दूसरे जहाजो को संकेत देने के सूचितार्थ लाल Flares नही थे जो कि खतरे के संकेत को इंगित करते है परन्तु वहा जहाज मे मात्र सफेद Flares ही थे जो कि ये इंगित कर रहे थे कि सबकुछ ठीक है।

4. Titanic अपने समय का पहला ऐसा जहाज थ जिसमे Decks को electromagnetic process (विद्युतचुंबकीय रुप) से बंद करने की सुविधा थी।

5. जहाज के कप्तान एडवर्ड स्मिथ तत्कालीन समय के सबसे अनुभवी कप्तान थे। ऊनको अटलांटिक समुद्र मे जहाज चलाने का 26 वर्षो का अनुभव था। परन्तु टाईटेनिक के मामले मे ऊनके सारे Disaster Mangement Plans निष्फल हो गए थे।

लंदन के राष्ट्रीय समुद्री संग्रहलाय के जॉन ग्रेव्स भी मानते हैं कि कोई नहीं जानता उस रात स्मिथ आखिर कहां गायब हो गए. (Titanic movie में कैप्टन को बलिदानी दिखाया गया है)

6. पुस्तक Wreck Of The Titan के लेखक मोर्गन रोबर्टसन को टाईटेनिक के डूबने के कुछ वर्षो के बाद विष देकर मार दिया गया।

7. Titanic 14/15 अप्रैल 1912 को डूबा था और ऊसके अगले ही वर्ष दिसंबर 1913 मे फेडरल रिजर्व की स्थापना हुई थी।

इस पूरी घटना का कारण Federal Reserve Bank का Formation था.

 

टाइटैनिक जहाज डूबा नहीं डुबाया गया था, बैंकर माफियाओं ने रची थी साजिश
Source

Federal Reserve क्या है

शुरुआती दौर में 1830 तक America के पास central bank नही था. उसके बाद वहां एक और बैंक चाहिये था जो bottomless reservoir की तरह काम करे और युद्ध के समय धडले से पैसा दे.

1910 में, सात लोगो ने पूरी प्लानिंग रखी उस भी बैंक की जा सबसे ज्यादा ताकतवर बनने वाला था – – Federal Reserve Bank. ये लोग थे, Nelson Aldrich + Frank Vanderlip, जिन्होने Rockefeller financial empire को represent किया ; Henry Davison, Charles Norton, Benjamin Strong J.P. Morgan की तरफ से और Paul Warburg ने Rothschild banking dynasty of Europe को represent किया. .

इस बैंक की स्थापना फेडरल रिजर्व ऐक्ट के जरिये 23 दिसंबर, 1913 को वित्तीय संकटों (असल में युद्ध के लिए फंड और सीक्रेट प्रोजेक्ट) के लिए हुयी.

ये ही भविष्य के लिए हथियार था Rothschild + Rockefeller + Morgan family के लिए.

ये इतना महत्वपूर्ण है कि फेडरल रिजर्व के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्यों, यहां तक कि अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का चुनाव भी राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है और उसे संसद मंजूरी देती है। इस बैंक ने प्रथम + द्वितीय विश्व युद्ध में कुबेर की तरह काम किया.

30 फुट मोटी high strength steel वाला टाइटैनिक iceberg के टकराने से नही बल्कि submarine( पनडुब्बी) torpedo वाले हमले से डूबा. ये एक planned हमला था.

Submarine के हमले + कम lifeboats होने की वजह से मौत ज्यादा हुयी. बचाव कार्य के तरीके भी प्लानिंग से निकाले गए. जब टाईटेनिक डूबने लगा था तब Deck पर मौजूद अधिकारीयो ने Women and Children First Policy अपनाई थी। जिसके कारण ऊन 3 अमीर लोगो को बचाया नही जा सका और मरनेवाले अधिकांश पुरुष ही थे.

Hollywood connection – ये पब्लिक माइंड कंट्रोल है. सबसे सफल फिल्मों में से एक, टाइटैनिक को पूरी दुनिया ने देखा और धारणा भी पिक्चर की तरह ही बन गई हमेशा के लिए. rothschild के पिल्ले हॉलीवुड निर्देशक वही बनायेंगे जो कहा जायेगा. 8 Oscar भी दिलाये गये.

हर बड़ी घटना के पीछे बड़ी conspiracy होती है.

A report by Venkatesh Bhrugu & Prashant Bhardwaj

1 COMMENT

LEAVE A REPLY